अभी-नील के परिजनों की मांग हत्यारों को हो फांसी 

In अपराध

कुंदन भराली

नगांव , 18 दिसम्बर (संवाद 365)। अभी-नील हत्या मामले में 71 गवाहों में से न्यायालय के सामने अब तक 42 गवाहों ने गवाही दी है। जिसके बाद अभी-नील के परिजनों ने हत्या मामले में शामिल आरोपितों को न्यायालय द्वारा सजा मिलने की उम्मीद जताई है।

शुक्रवार को नगांव अदालत में तीन और गवाहों ने घटना का पूरा विवरण न्यायालय के सामने दर्ज कराया। 71 गवाहों में से 42 गवाहों ने अपनी गवाही न्यायालय में दर्ज करा चुके हैं। अभी-नील के पिता गोपाल चंद्र दास, अजीत नाथ और स्मृति रक्षा समिति द्वारा सभी आरोपितों की फांसी की सजा दिए जाने की मांग की गई है।

ज्ञात हो कि वर्ष 2018 के 8 जून को कार्बी आंग्लांग जिला के डकमका थाना अंतर्गत पानजुरी गांव में उग्र भीड़ द्वारा बड़ी बेरहमी से पीट-पीटकर अभिजीत नाथ और नीलोत्पल दास की हत्या कर दी गयी थी। हत्या के शिकार हुए दोनों युवक गुवाहाटी के रहने वाले थे। दोनों की हत्या बच्चा चोर होने के आरोप में की गयी थी।

 

 

Mobile Sliding Menu

error: Content is protected !!