असम के दुर्गम और सीमावर्ती इलाकों में पहुंचेगा एनसीसी : मेजर जनरल कलिता  

In राज्य

गुवाहाटी, 08 सितम्बर (संवाद 365)। राष्ट्रीय कैडेट कोर (एनसीसी), असम राज्य के कोने-कोने में पहुंचेगा। यह सुनिश्चित करने के प्रयास जोरों पर हैं कि असम के दुर्गम और पिछड़े क्षेत्रों, विशेषकर सीमावर्ती क्षेत्रों के छात्र भी एनसीसी से लाभान्वित हों।

एनसीसी के व्यापक पदचिह्नों के जरिए राष्ट्रीय एकीकरण सुनिश्चित करेंगे। इस दृष्टि को समूह मुख्यालय एनसीसी, गुवाहाटी के अधिकारियों और कर्मचारियों के साथ बातचीत करते हुए एडीजी एनसीसी एनईआर मेजर जनरल भास्कर कलिता ने बुधवार को मुख्यालय के अपने पहले दौरे पर साझा किया।

उन्होंने उपरोक्त लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए काम किया जाएगा। कलिता ने सैनिक स्कूल ग्वालपारा में अपने कैडेट दिनों को बारे में याद करते हुए बताया कि कैसे एनसीसी कैडेट के रूप में दिए गए प्रशिक्षण ने उन्हें देश के एक प्रबुद्ध और जिम्मेदार नागरिक के रूप में आकार दिया। प्रथम असम बटालियन एनसीसी के कैडेटों द्वारा इस मौके पर गार्ड ऑफ ऑनर प्रदान किया गया।

उन्होंने लेफ्टिनेंट मोइत्री हजारिका और थर्ड ऑफिसर दिलीप सुबेदी को उनके योगदान के लिए बधाई दी और दूसरों को भी उनका अनुकरण करने का आह्वान किया। ग्रुप कमांडर एनसीसी, गुवाहाटी ब्रिगेडियर जेसी तालुकदार ने एडीजी को एनसीसी की विभिन्न गतिविधियों और एनसीसी कैडेटों के कोरोना प्रबंधन, सामाजिक सेवाओं, सामुदायिक जागरूकता कार्यक्रमों, राष्ट्र निर्माण और राष्ट्रीय एकता की दिशा में किए जा रहे प्रयासों के बारे में जानकारी दी।

Mobile Sliding Menu

error: Content is protected !!