आमरी कार्बी स्व शासित जिला आमरी लांगपी प्रदान की मांग

In राज्य

जिंटू फाग्सो

गुवाहाटी, 10 नवम्बर (संवाद 365)। आमरी कार्बी जन समुदाय को पहाड़ी जनजाति का दर्जा देने समेत अन्य मांगों को आमरी कार्बी छात्र संघ ने मंगलवार को सरकार के सामने अपनी आवाज उठायी। छात्र संस्था उपरोक्त मुद्दे को लेकर काफी समय से आंदोलन करती आ रही है।

मंगलवार को गुवाहाटी प्रेस क्लब में आय़ोजित एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए आमरी कार्बी छात्र संघ के नेताओं ने कहा कि आमरी कार्बी जनसमुदाय को अनुच्छेद 342 के अनुसार पहाड़ी जनजाति का दर्जा प्रदान किया जाए। आमरी कार्बी लोगों को छठी अनुसूची के आधार पर स्व शासित जिला आमरी लांगपी प्रदान किया जाए। कार्बी बहुल इलाका डिमोरिया से तीवा परिषद को पूरी तरह रद्द किया जाए।

संवाददाता सम्मेलन में आमरी कार्बी के नेशनल काउंसिल के मुख्य सलाहकार इंद्रेश्वर तेरन,आमरी कार्बी छात्र संघ के महासचिव धर्मेश्वर तेरन और अध्यक्ष विक्रम फांग्सो आदि मौजूद रहे। नेताओं ने कहा कि वे अपनी मांग को राज्य सरकार के सामने पूरी मजबूती के साथ उठाएंगे। संगठन की ओर से की गई मांगे को अगर राज्य सरकार गंभीरता से नहीं लेती है तो आने वाले दिनों में गुवाहाटी और इसके आसपास के इलाके में जोरदार आंदोलन होगा।

Mobile Sliding Menu

error: Content is protected !!