एआईयूडीएफ ने किया श्रमिकों के विरुद्ध बने नियम का विरोध

In राज्य

गुवाहाटी, 11 मई (संवाद 365)। असम सरकार द्वारा श्रमिकों की कार्य अवधि को 08 घंटे से बढ़ाकर 12 घंटा किए जाने के लिए ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (एआईयूडीएफ) ने सरकार की कड़े शब्दों में निंदा की है। सोमवार को पार्टी के महासचिव अमीनुल इस्लाम ने इसका विरोध करते हुए कहा कि असम सरकार के साथ ही देश के जिन-जिन राज्यों में श्रमिकों के विरुद्ध राज्य सरकारों द्वारा नियम बनाए गए हैं, एआईयूडीएफ उसका जमकर विरोध करेगी।

पार्टी ने कहा है कि किसी भी कीमत पर मजदूरों के विरुद्ध बनाए गए इस नियम को पार्टी मान नहीं सकती है। उन्होंने कहा कि पहले भी जब सन2017 में सरकार ने श्रम नीति में संशोधन किया था उस समय भी एआईयूडीएफ ने इसका जमकर विरोध किया था। अभी भी विरोध करेगी। सरकार ने अंतरराष्ट्रीय नियम का उल्लंघन करते हुए मजदूरों की कार्य अवधि को दिन में 08 घंटे से बढ़ाकर 12 घंटा कैसे कर सकती है।

उन्होंने कहा कि यह सरकार हमेशा ही गरीबों और श्रमिकों का शोषण करने वाली रही है। जहां पार्टी ने श्रमिकों के विरुद्ध असम सरकार द्वारा बनाए गए इस नियमों को वापस लेने की मांग की है वहीं श्रमिकों की समस्या का समाधान से संबंधित मांगे भी जोरदार तरीके से उठाई है।

Mobile Sliding Menu

error: Content is protected !!