धर्म रक्षा व राष्ट्र रक्षा के लिए जनसंख्या नियंत्रण कानून जरूरी : अनिल चौधरी

In राज्य

गुवाहाटी, 30 अगस्त (संवाद 365)। डिजिटल माध्यम के जरिए जनसंख्या समाधान फाउंडेशन के असम तथा पूर्वोत्तर के कार्यकताओं के बीच एक वेबिनार आयोजित किया गया। फाउंडेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल चौधरी और राष्ट्रीय महासचिव तथा पूर्वोत्तर के प्रभारी कृष्ण मुरारी ने हिस्सा लिया।

बैठक में असम प्रांत के अध्यक्ष शिवप्रसाद शर्माप्रांत संयोजक निपन सैकिया, पूर्वोत्तर के सगंठन मंत्री शैलेंद्र पांडे और संयोजक लालजी सोनार ने हिस्सा लिया। कार्यक्रम में असम के कई जिलों के कार्यकर्ताओं के अलावा मेघालय,मणिपुरअरुणाचल प्रदेशत्रिपुरानगालैंड और मिजोरम के कार्यकर्ताओं ने भी हिस्सा लिया।

बैठक में फाउंडेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने जनसंख्या असंतुलन के कारण राष्ट्र और धर्म की हानि के संबंध में विस्तार से प्रकाश डाला। उन्होनें अत्यन्त सरल भाषा में तथा कम समय में मोहम्मद बिन कासिम के आक्रमण से लेकर अब तक के घटनाक्रमों का वर्णन किया। उन्होंने जोर देते हुए कहा कि आने वाले समय में राष्ट्र के सम्मुख एक कठोर जनसंख्या नियंत्रण कानून के सिवाय और कोई विकल्प नहीं है। उन्होंने असम प्रांत के कार्यकर्ताओं द्वारा चलाये जा रहे जागरण अभियान की भी प्रशंसा की।

बैठक में राष्ट्रीय महासचिव ने असम तथा पूर्वोत्तर में कम समय में ही फाउंडेशन के कार्य प्रभावी बनाने के लिए सभी कार्ययकर्ताओं और राष्ट्रवादी संवाद माध्यमों को धन्यवाद दिया। आने वाले दिनों में सभी मूल निवासी तथा भविष्य को सुरक्षित करने के लिए युवा पीढ़ी की सुरक्षा निश्चित करने हेतु देश में एक कठोर जनसंख्या नियंत्रण कानून पारित होने तक अभियान जारी रखने के लिए जनसंख्या समाधान फाउंडेशन को सहायता करने के लिए सभी राष्ट्रवादी शक्तिओं का आह्वान किया।

Mobile Sliding Menu

error: Content is protected !!