नए पुलिस अधीक्षक आनंद मिश्रा ने की नगांव जिला के कानून व्यवस्था की समीक्षा

In राज्य

डिंपल शर्मा

नगांव , 18 मई, (संवाद 365)। नगांव के नए पुलिस अधीक्षक के रूप में धुबड़ी से तबादला होकर पहुंचे पुलिस अधीक्षक आनंद मिश्रा ने अपना कार्यभार संभाल लिया। इस दौरान मिश्रा ने मंगलवार को शहर के कई संवेदनशील और अतिसंवेदनशील इलाकों का दौरा किया और जिला की कानून व्यवस्था की स्थिति की समीक्षा की। समूचे देश के साथ नगांव में भी कोरोना वायरस का संक्रमण का ग्राफ तेजी से बढ़ता जा रहा है।

नगांव जिला के कई स्थानों में राज्य के बाहर आई बसों जिसमें अधिकांश बसें केरला से आई हैं, उनके चालक और खलासी सहित उनके कर्मचारी करीब एक महीने से नगांव में फंसे हुए हैं। उनसे मिश्रा ने बातचीत की। असम सरकार के नई एसओपी (स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसिजर) लागू होने के बाद से बसें राज्य से बाहर नहीं जा सकी थीं। जिसके कारण सैकड़ों बसों के साथ उनके कर्मचारी भी नगांव जिले में फंस गए हैं।

नगांव शहर के लखीनगर चाराली, मोरीगांव बस अड्डा के साथ रूपोहि, रंगुलु, बरघाट, कातिमारी और जुरिया के साथ अनेक स्थानों में ये बसें फंसी हुई हैं। अकेले शहर की लखीनगर चाराली के महावीर ट्रेवेल्स में 57 बसे खड़ी हैं। मंगलवार को नगांव के पुलिस अधीक्षक आनंद मिश्रा ने उक्त स्थान पर पहुंचकर बसों के चालकों और खलासियों से बातचीत की और उन्हें केरला वापस भेजने का आश्वासन दिया।

कई सचेतन नागरिकों ने जिला प्रशासन को बताया है कि केरला से आने वाले अधिकांश लोगों के कारण जिले में कोरोना संक्रमण के मामलों में वृद्धि हुई है। बस के चालकों का कहना था कि अगर वे केरला इन खाली बसों को लेकर जाते हैं तो एक बस पर करीब एक लाख का खर्च आता है। उन्होंने अपनी सारी आपबीती पुलिस अधीक्षक को बताई जिसके बाद उन्होंने इन सभी को आश्वासन दिया कि वह सरकार से बातचीत करेंगे और उनकी इस समस्या को जल्दी हल करेंगे।

एक अन्य सूत्रों द्वारा मिली जानकारी के अनुसार शहर के मोरीगांव बस अड्डे के समीप केरला से आई बस के एक चालक के साथ मारपीट करने का भी मामला प्रकाश में आया है। नगांव स्वास्थ्य विभाग द्वारा मिली जानकारी के अनुसार आज जिला में सर्वाधिक 447 मामले कोरोना संक्रमण से संबंधित मामले सामने आए हैं। मिश्रा ने पत्रकारों को बताया कि सरकार के नियमों की अनदेखी करने पर पुलिस विभाग द्वारा उचित कार्रवाई की जाएगी और दोषियों को सख्त सजा दी जाएगी। उन्होंने लोगों से आग्रह किया है कि कोरोना संक्रमण के इस समय में सामाजिक दूरी बनाए रखें और मास्क पहनने के साथ सरकार के निर्देश का पालन करें।

 

Mobile Sliding Menu

error: Content is protected !!