पशु भवन में मुर्गी पालन का प्रशिक्षण व मुर्गी के चूजों के वितरण

In राज्य

गुवाहाटी 17 जुलाई संवाद 365 : राजधानी गुवाहाटी के पंजाबारी स्थित पशु भवन में मंगलवार को असम पशु बत्तख एवं मुर्गा निगम के सौजन्य एवं सारथी के सहयोग से मुर्गी पालन का प्रशिक्षण एवं मुर्गी के चूजों के वितरण का कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस दौरान गुवाहाटी व इसके आसपास के मुर्गी पालक व बेरोजगार युवक-युवती, महिलाओं को मुर्गी के चूजे वितरित किए गये। इस कार्यक्रम में लगभग 100 से अधिक लोगों को मुर्गी के चूजों का वितरण किया गया। ये चुजें अंडे देने वाले चूजे हैं। एक चुजा 170 से 200 तक अंडा देगा। निगम के चेयरमैन मनोज सैकिया ने कहा कि बेरोजगार युवक-युवतियों के लिए आर्थिक उपार्जन का यह अच्छा तरीका है। हम दूसरे राज्यों पर अंडों के लिए निर्भर हैं। अगर यहां के लोग अच्छे से मुर्गी पालन करना शुरू कर दें तो काफी हद तक अंडे का उत्पादन असम में होना शुरू हो जाएगा। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि इन दिनों अंडे का दाम बढ़ गया है। इसके लिए राज्य सरकार जिम्मेदार नहीं है। क्योंकि ज्यादातर अंडा दूसरे राज्य से आता है। वहां अंडों का दाम बढ़ने की वजह से हमारे यहां भी अंडों का दाम बढ़ जाता है। उन्होंने कहा कि अंडों का दाम बढ़ा है, इसको लेकर सरकार गंभीर है। उन्होंने कहा कि हम यह पता लगाएंगे कि अंडों की कीमतों में बढ़ोत्तरी की असली वजह क्या है। उन्होंने कहा कि यह पता लाने की कोशिश की जा रही है कि जहां से अंडा आता है, वहीं पर दाम बढ़े हैं या राज्य के व्यापारी अंडों की कीमत बढ़ा रहे हैं। इस पर हम कड़ी नजर रखे हुए हैं।  कार्यक्रम में असम पशु बत्तख एवं मुर्गा निगम के चेयरमैन मनोज सैकिया, मैनेजिंग डायरेक्टर दीपाली देवी, एडमिनिस्ट्रेटिव ऑफिसर डॉ पीएन कुंवर, सीनियर वेटरनरी ऑफिसर डॉ एन ठाकुरिया आदि भी मौजूद थे।

Mobile Sliding Menu

error: Content is protected !!