बाघ के आतंक से ग्रामीण परेशान

In राज्य

मुस्ताक अहमद

नगांव , 04 दिसम्बर (संवाद 365)। नगांव जिला के लाउखोआ अभयारण्य के आसपास के गांव केलोग इन दिनों बाघ (बंगाल टाइगर) के मुक्त विचरण से काफी परेशान हैं। स्थानीय लोगों का कहना है कि रिहायशी इलाके में तेंदुआ आकर हर रोज पालतू मवेशियों को अपना शिकार बना रहे हैं।

 

बाघ के आतंक को लेकर अभयारण्य के सुधीरपारा सीतलमारी राजस्व गांव के लोग और गोपालक काफी परेशान हैं। स्थानीय गोपालक हसन अली ने कहा कि बाघ के हमले में कई भैंस, गायों की मौत हो चुकी है। वहीं कई बकरियों को भी तेंदुआ अपना निवाला बना चुका है।

 

गांव वालों द्वारा इस संबंध में वन विभाग से ठोस कदम उठाए जाने की मांग की है। 10 से 12 तेंदुआ इलाके में देखे जाने से गांव वाले काफी परेशान हैं। हाल ही में वन विभाग द्वारा लगाए गए कैमरे में लाउखोआ अभयारण्य के अंदर तेंदुआ को विचरण करते देखा गया था।

 

Mobile Sliding Menu

error: Content is protected !!