भाजपा खेमे में चमक, कांग्रेस में उदासी

In राज्य

 

गुवाहाटी, संवाद 365, 31 मार्च : लोकसभा चुनाव में जहां सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी खेमे में चमक स्पष्ट दिख रही है, वहीं मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के खेमे में उदासी छायी हुई है। हालांकि चुनाव प्रचार के लिए भाजपा तीन और कांग्रेस दो हेलीकॉप्टर प्रयोग करने वाली हैं। इसके लिए राजधानी के खानापाड़ा स्थित वेटनरी कॉलेज ग्राउंड में कांग्रेस और भाजपा खेमे का अलग-अलग हेलीपैड ग्राउंड तैयार किया गया है। जहां से नेता हेलीकॉप्टर से उड़कर राज्य में चुनाव प्रचार करने जा रहे हैं। हेलीकॉप्टर में आकर सवार होने से पहले समय बीताने के लिए दोनों खेमों के द्वारा अलग-अलग कक्ष तैयार किए गए हैं। भाजपा खेमे में भारी भीड़ लगी रहती है, जबकि कांग्रेस के कक्ष में कुछ लोग ही दिखते हैं। हालांकि सीआरपीएफ के जवान पहारा देते नजर आ रहे हैं। चुनाव में प्रचार के लिए जहां भाजपा तीन और कांग्रेस द्वारा दो हेलीकॉप्टर तथा ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (एआईयूडीएफ) द्वारा एक हेलीकॉप्टर अब तक किराए पर लिया गया है। जबकि, भाजपा की सहयोगी पार्टी असम गण परिषद (अगप) द्वारा अब तक एक भी हेलीकॉप्टर चुनाव प्रचार के लिए किराए पर नहीं लिया गया है। भाजपा ने दो डबल इंजन हेलीकॉप्टर लिए हैं। इसमें से एक हेलीकॉप्टर का प्रयोग राज्य के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल, नॉर्थ-ईस्ट डेमोक्रेटिक एलाइंस (नेडा) के संयोजक डा. हिमंत विश्वशर्मा करेंगे जबकि अन्य एक हेलीकॉप्टर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष रंजीत कुमार दास उपयोग करेंगे। वही एक अन्य हेलीकॉप्टर को पार्टी के स्टार प्रचारकों के लिए रखा जाएगा। इसी प्रकार कांग्रेस के सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस भी दो में से एक हेलीकॉप्टर स्थानीय नेताओं के लिए तथा एक हेलीकॉप्टर स्टार प्रचारकों के लिए उपयोग करेगी। इस संदर्भ में पूछे जाने पर कांग्रेस महासचिव रंजन बोरा ने बताया कि कांग्रेस पैसे को ऐसे व्यर्थ में बर्बाद नहीं करना चाहती है। इसीलिए कम से कम हेलीकॉप्टर का प्रयोग इस चुनाव में किया जाएगा। जबकि साइकिल से चुनाव प्रचार करने को अधिक तरजीह दी जाएगी। वहीं अगप नेताओं का कहना है कि मुझे सिर्फ तीन सीटों पर चुनाव लड़ना है, इसलिए हेलीकॉप्टर से चुनाव प्रचार करने की आवश्यकता नहीं होगी। आवश्यकता पड़ने पर बाद के दिनों में हेलीकॉप्टर किराए पर लिया जाएगा। आने वाले समय में पूरे राज्य में हेलीकॉप्टर का व्यवहार और अधिक होते दिखने की संभावना जताई जा रही है।

Mobile Sliding Menu

error: Content is protected !!