विद्या भारती उत्तर असम प्रान्त के आचार्यो के लिए ‘गुरुशाला’ की ओर से ऑनलाइन प्रशिक्षण सम्पन्न

In राज्य

 गुवाहाटी, 21 अगस्त (संवाद 365)। विद्या भारती उत्तर असम प्रांत के शिक्षकों के लिए गुरुशाला ने ऑनलाइन शिक्षक प्रशिक्षण का आयोजन चार बैच (11-12, 13-14, 18-19 और 20-21 अगस्त) के तहत किया था। चार बैचों में3,000 से अधिक शिक्षकों ने प्रशिक्षण में भाग लिया। शिक्षकों को प्रोत्साहित करने के लिए शिशु शिक्षा समिति, असम के महामंत्री कुलेन्द्र कुमार भागवती, विद्या भारती पूर्वोत्तर क्षेत्र के संगठन मंत्री ब्रह्माजी राव, सह संगठन मंत्री डॉ पवन तिवारी तथा उत्तर असम प्रांत के संगठन मंत्री हेमन्त धींग मजुमदार ने मार्गदर्शन किया।

प्रशिक्षण के समापन अवसर पर शुक्रवार को ऑनलाइन ट्रेनिंग में असम के शिक्षा राज्य मंत्री भवेश कलिता और व पत्रकार दीक्षित शर्मा ने शिक्षकों को संबोधित किया। धन्यवाद ज्ञापन शैलेन्द्र पाण्डेय, सह प्रान्त प्रचार प्रमुख, विद्या भारती, शिशु शिक्षा समिति, असम के द्वारा किया गया।

मालूम हो कि गुरुशाला इंडस टावर्स लिमिटेड और वोडाफोन इंडिया फाउंडेशन की एक पहल है। इसे प्रथम एजुकेशन फाउंडेशन द्वारा क्रियान्वित किया गया। गुरुशाला छात्रों के सीखने में सुधार और बच्चों के समग्र विकास को प्राप्त करने के लिए तकनीकी और नवीन शिक्षण का उपयोग करने के लिए शिक्षकों की क्षमता निर्माण पर काम करती है। कोरोना के कारण लॉकडाउन के चलते गुरुशाला ऑन लाइन और दूरस्थ रूप से पढ़ाने में शिक्षकों के प्रयासों की सहायता करने के लिए साप्ताहिक ऑन लाइन प्रशिक्षण, विषय विशेषज्ञ सत्र और प्रतियोगिताओं का आयोजन कर रही है।

इस प्रक्रिया में देश भर के 10 हजार से अधिक शिक्षकों को ऑन लाइन माध्यम से प्रशिक्षित किया गया है। इस महामारी में ऑनलाइन शिक्षण के दौरान, कंटेन्ट निर्माण, परियोजना शिक्षण, छात्रों के सामाजिक भावनात्मक विकास आदि प्रशिक्षण के लिए विषय रखे जाते हैं। गुरुशाला एक ऑन लाइन प्लेटफ़ॉर्म है जिसमें 25 हजार से अधिक शिक्षकों का समुदाय है और गुरुशाला विभिन्न विषयों और कक्षाओं से संबंधित मुफ्त ऑन लाइन कोर्स को करने की सुविधा प्रदान करता है।

Mobile Sliding Menu

error: Content is protected !!