विश्व संविधान संसद संस्था के लिए राज्य के डॉ दिव्यज्योति सैकिया मनोनीत

In राज्य

गुवाहाटी, 01 दिसंबर (संवाद 365)। वर्ल्ड कंस्टीटूशन पार्लियामेंट अमेरिका के सेभेन्थ एभीन्यू रेडफर्ड स्थित मुख्य कार्यालय के अनुमति के बाद उक्त संस्था की भारतीय चैप्टर द्वारा मंगलवार को महाराष्ट्र में अंतरराष्ट्रीय उपाध्यक्ष एम पी नरसिंहगा मुर्ती और राष्ट्रीय सचिव डॉ दत्त बिधावे के मौजूदगी में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान असम के जाने-माने राष्ट्रीय मानव अधिकार एवं समाज कार्यकर्ता डॉ. दिव्यज्योति सैकिया को विश्व संविधान संसद संस्था के लिए मनोनीत किया गया साथ ही डॉ. दिव्यज्योति सैकिया को संस्था द्वारा भारत में अपने अध्याय के द्वारा अमेरिका के न्यूयॉर्क में स्थित विश्व मानवाधिकार संरक्षण आयोग ने राज्य के मानवाधिकार और सामाजिक कार्यकर्ता डॉ. दिव्यज्योति सैकिया को डॉक्टरेट की मानद उपाधि प्रदान की।

उल्लेखनीय है कि इससे पूर्व कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय ने उन्हें मानवता एवं उल्लेखनीय सेवा के लिए मानवता पर डॉक्टरेट की उपाधि से सम्मानित किया है। शांति, मानवता और मानव अधिकारों के लिए पिछले दो दशकों से अपने निरंतर प्रयासों के लिए सैकिया को यह पुरस्कार प्रदान किया गया है। यह कार्यक्रम इंडिया इंटरनेशनल सेंटर नई दिल्ली में आयोजित किया गया था।

जहाँ एच ई ऑस्टिन फर्नांडो, श्रीलंका के उच्चायुक्त रिचर्डो वेर्ना, पनामा के उप-प्रमुख, मिसिसिपी, माथापेलो, दक्षिण अफ्रीका के उच्चायुक्त के रूप में कई अंतर्राष्ट्रीय उल्लेखनीय व्यक्तित्व मौजूद थे। गौरतलब है कि सैकिया को ग्लोबल पीस काउंसिल, लंदन, यूके से अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार “ग्लोबल पीस अवार्ड, 2020” हासिल हो चुका है। सैकिया को कई अन्य अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कारों के साथ-साथ अब तक साठ से अधिक राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।

Mobile Sliding Menu

error: Content is protected !!