हॉग डियर का मांस बेचने के आरोप में चार अपराधी गिरफ्तार

In अपराध

दरांग , 01 सितम्बर (संवाद 365)। दरंग जिला में स्थित ओरांग राष्ट्रीय उद्यान के कटासली और चंदनपुर कैंप के वन सुरक्षा कर्मियों ने गुप्त सूचना के आधार पर मंगलवार की सुबह कार्रवाई करते हुए हॉक डियर (हिरण) का मांस बेचने के आरोप में चार लोगों को गिरफ्तार किया है।

वन विभाग से मिली जानकारी के अनुसार श गुप्त सूचना के आधार पर कटसाली और चंदनपुर कैंप के वन कर्मी उस स्थान पर पहुंच गए जहां पर हिरण का मांस रखा गया था। कथित तौर पर सुबह 04-05 बजे के आसपास हिरण को काटा गया था। मौके से हिरण की खाल भी वन सुरक्षाकर्मियों ने बरामद कर लिया।

पकड़े गए लोगों की पहचान मु. निज़ामुद्दीन अली (बागीबारी), मु. अब्दुर रहमान (बागीबारी), मु. अली अहमद (बागीबारी) एवं मु. नेकबर अली (बागीबारी) के रूप में की गई। हालांकि, मौके से तीन अन्य आरोपी फरार होने में सफल हो गए।

ज्ञात हो कि हॉग हिरण वन्यजीव संरक्षण अधिनियम, 1972 के अनुसार एक संरक्षित प्रजाति है। हॉग हिरण का अवैध शिकार या हत्या एक आपराधिक मामला है। दोषी पाए जाने पर तीन साल तक कारावास और 25,000 रुपये तक का जुर्माना हो सकता है। वन विभाग ने इस संबंध में एक प्राथमिकी दर्ज कर मामले की जांच कर रहा है।

Mobile Sliding Menu

error: Content is protected !!