कोरोना के मद्देनजर संक्षिप्त रूप से मनाया गया मंदिर का स्थापना दिवस

In कला-संस्कृति

डिंपल शर्मा

नगांव , 08 जून (संवाद 365)। जय अंबे सत्संग समिति के तत्वाधान में श्री कृष्णाश्रम शिव मंदिर स्थित दुर्गा मंदिर का 26वां स्थापना दिवस वैश्विक महामारी करोना के मद्देनजर संक्षिप्त रूप से मनाया गयाl

समिति के अध्यक्ष मुकेश पोद्दार ने मंगलवार को बताया कि स्थापना दिवस के अवसर पर ममतामयी माता का मंदिर फूलों द्वारा भव्य रूप से सजाया गया एवं माता का श्रृंगार किया गया। प्रातःकाल में ही समिति की सदस्य बबिता खेतावत द्वारा सपरिवार पूजा-अर्चना करने एवं मां को चूड़ा, चुनरी, सुहाग पिटारी आदि सामग्रियां चढ़ाई गई।

तत्पश्चात करोना प्रोटोकॉल के मद्देनजर समिति की सदस्याओं द्वारा अपने-अपने घरों में 09 घंटे का अखंड भजन-कीर्तन आयोजित किया। जिसमें सर्वप्रथम यशोदा माहेश्वरी द्वारा कीर्तन का शुभारंभ किया गया। तत्पश्चात मंजु शोभासरिया, राजू धानुका, लता शोभासरिया, मीणा धानीवाल, बबीता खेतावत, उमा चौधरी, संगीता चौधरी, लक्ष्मी बीदासरिया, रचना बंका, किरण जाजोरिया ने एक-एक घंटे का कीर्तन अपने निवास स्थान पर किया।

वहीं 09 घंटे के कीर्तन का समापन समिति की सचिव यशोदा महेश्वरी के निवास स्थान पर समिति की उपाध्यक्ष कांता भरतीया, बिमला शर्मा, बबिता शर्मा व समिति की अध्यक्ष की उपस्थिति में ममतामयी माता को छप्पन भोग का प्रसाद चढ़ाया गया। साथ ही गजरा भी अर्पण किया गया, उक्त समस्त एक दिवसीय कार्यक्रमों को सफल बनाने में समिति के समस्त सदस्य एवं सदस्याओं का भरपूर सहयोग प्राप्त हुआ।

ज्ञात हो कि विगत वर्ष दुर्गा मंदिर के स्थापना के 25 वर्ष पूरा हो चुका था तथा इस अवसर पर भव्य रूप से कई कार्यक्रम आयोजित करने का निर्णय लिया गया था। लेकिन कोरोना के मद्देनजर सभी कार्यक्रमों को स्थगित करते हुए संक्षिप्त रूप से आयोजित किया गया। समिति ने निर्णय लिया है की आगामी वर्षों में रजत जयंती वर्ष को धूमधाम से मनाया जाएगा।

Mobile Sliding Menu

error: Content is protected !!