डॉक्टर की लापरवाही से लोगों को नहीं मिल पा रही चिकित्सा सेवा

In राज्य
अब्दुल हक

बरपेटा , 22 सितम्बर (संवाद 365)। बरपेटा जिला के चेंगा विधानसभा क्षेत्र के पूर्व महचारा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सक की लापरवाही के चलते आए दिन इलाके के मरीजों का इलाज नहीं हो पाने का आरोप लग रहा है।

 स्वास्थ्य केंद्र के बाहर ऑल असम मुस्लिम स्टूडेंट यूनियन (आमसू) और इंटरनेशनल ह्यूमन राइट्स जुडिशियल प्रोटेक्शन काउंसिल के कार्यकर्ताओं ने स्थानीय लोगों के सहयोग से मंगलवार की सुबह जमकर विरोध प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने आरोप लगाया है कि पूर्व महचारा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सक डॉ शमशुल हक महीने में 15 से 20 दिन अनुपस्थित रहते हैं। जिसकी वजह से लोगों को स्वास्थ सेवा से वंचित होना पड़ता है।

लोगों ने कहा कि मरीज तो स्वास्थ्य केंद्र तक आते हैं लेकिन चिकित्सक और नर्सों के नहीं होने की वजह से मरीजों को बिना इलाज के ही घर लौटना पड़ता है। वहीं मरीजों को दवा भी नहीं मिल पा रही है। ज्यादातर समय स्वास्थ्य केंद्र में एक फार्मासिस्ट रहता है। चिकित्सक और नर्स के कमरे में हमेशा ताला लटका रहता है। प्रदर्शनकारियों ने इस संबंध में गंभीरता से कदम उठाते हुए स्वास्थ्य केंद्र में डॉक्टर और नर्स की नियुक्ति किए जाने की मांग की है। वहीं लापरवाह डॉक्टर के खिलाफ भी कार्रवाई करने की मांग की है।

You may also read!

अलविदा ! शूरवीर जनरल रावत – चीन और पाकिस्तान खौफ खाते थे सीडीएस के आक्रामक बयानों से

  नई दिल्ली, 08 दिसम्बर (संवाद 365)। तमिलनाडु के कुन्नूर में बुधवार को दुर्घटनाग्रस्त हुए वायु सेना के हेलीकॉप्टर में

Read More...

सीडीएस जनरल बिपिन रावत और पत्नी मधुलिका समेत 13 का हेलीकॉप्टर दुर्घटना में निधन  

  नई दिल्ली, 08 दिसम्बर (संवाद 365)। तमिलनाडु के कुन्नूर में बुधवार को वायु सेना के हेलीकॉप्टर हादसे में देश

Read More...

तुरियल नदी में डूबे व्यक्ति के शव को चुनौती पूर्ण स्थिति में एनडीआरएफ ने चार दिन बाद बरामद किया

आईजोल, 08 दिसम्बर (संवाद 365)। असम की राजधानी गुवाहाटी के पाटगांव स्थित प्रथम वाहिनी राष्ट्रीय आपदा बल (एनडीआरएफ) की

Read More...

Mobile Sliding Menu

error: Content is protected !!